संदेश

February 3, 2008 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

अनसुलझे सवाल

कुछ सवाल ऐसे भी होते है कि जिसका जवाब शायद कभी नही मिलता .मसलन आप चाहते है कि आपके हालत मे थोडी तब्दीली आए लेकिन आप ही एक कदम बढ़ाने के लिए तैयार नही है । एक अद्रिस्य डर हमेशा आपको रोकता है । या यूं कहे कि सुविधा मे जीने की आदत आपको कोई रिस्क लेने नही देती । कभी हमे लगता है कि हमारी अपार क्षमता कही कुंद हो रही है लेकिन हर वक्त एक अदृश्य डर आपको रोकता है । कभी आपने लीक से हटकर कुछ करने कि सोची है , लेकिन फिर भी आप कुछ नही कर पाए है तो इसमे आप किसे दोषी ठहरायागे । हमे लगता है कि एक ही सुरताल मे गाते गाते धीरे धीरे हम बेसुरा तो नही हो गए है ।
कुछ लोगो के साथ यही मुश्किल है ओ सोचने के मामले मे काफी आगे होते हैं जबकि करने के मामले मे उनका रिकार्ड फिसिद्दी साबित होता है । हम भी शायद आपकी तरह ही सोचते है कि एक कामयाब और नाकामयाब के बीच बहुत अंतर नही होता है उर्जा लेवल मे भी हम पीछे नही होते फिर चुक कहाँ होती है ?आपकी तरह मैं भी सोचता हूँ कि आपका परिवेश और आपकी पृष्ठभूमि आपके निर्णय लेने कि क्षमता को खास तौर से प्रभावित करती है। तो यह मतलब नही है कि ग्रामीण परिवेश के लोगों का व्यक्तित्व थोडा क…