पोस्ट

अप्रैल 7, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

स्वच्छ भारत की स्वच्छ राजनीति का मॉडल @75

इमेज
मेरा वोट किसको ? लोगों  से ज्यादा चिंता मीडिया को है। आपने इससे पहले कभी यह जाना कि आप कैसे हो ,आपकी क्या परेशानी है ? अगर यह नहीं जाना तो सिर्फ यह सवाल क्यों ? लेकिन मेरे पास भी  एक सवाल है मथुरा के उस बुजुर्ग किसान ने थोड़ा आश्वस्त होकर पूछा  "मोदी को हराने के लिए वोट क्यों ? मैं  व्यक्तिगत इसे यक्ष प्रश्न नहीं मानूंगा । अमूमन पिछले 30 वर्षो से  भारत मे लोग हराने  के लिए ही वोट करते हैं जिसमे कोई अदृश्य ही सत्ता की बागडोर संभालते हैं। ऐसा वर्षों बाद 2014 में हुआ जब लोगों ने पूर्ण बहुमत से मोदी को जिताने के लिए वोट किया था। लेकिन यह सवाल आज दुरुस्त है कि क्या हिंदुस्तान सिर्फ नैरेटिव /प्रचार को आधार बनाकर मोदी को हराने के लिए वोट करेगा। या मोदी में स्वच्छ भारत की छवि देखेगा या फिर बंटे हुए समाज का बटा हुआ निर्णय देगा ? कांग्रेस देश की सबसे बड़ी पार्टी रही है लेकिन आज इसकी हालत ऐसी क्यों है ? यह चिंता किये बगैर  अगर राहुल गांधी सिर्फ मोदी को हराने के लिए चक्रब्यूह की रचना कर रहे हैं तो शयद यह उनकी कोर टीम  की नासमझी होगी। जिसने अपने आधार को विस्तार देने से ज्यादा ध्यान दूस